लगातार तनाव भरी जिन्दगी जीना, खाने पीने की चीजों में मिलावट, लगातार ठण्डे और गरम का गलत तरीके से सेवन और मौसम में फैला प्रदूषण कुछ ऐसी खास वजहे हैं जिनके कारण बाल जल्दी सफेद होना शुरू हो गये हैं । इन सफेद बालों को काला करने के लिये हम आपको ऑवले के कुछ ऐसे प्रयोग बता रहे हैं कि यदि एक भी माफिक पड़ गया तो आपका हर सफेद बाल कोयले से भी ज्यादा काला पड़ जायेगा ।

ऑवले का प्रयोग नम्बर एक :-

ऑवले के छोटे छोटे टुकड़े करके इनको छाया वाली जगह पर रख सुखा लें । फिर 200 ग्राम सूखा ऑवला लेकर उसको आधा किलो नारियल तेल के साथ हल्की आँच पर तब तक गर्म करें जब तक कि ऑवले के टुकड़े कठोर और काले ना पड़ जायें । काले पड़े ऑवलों को तेल के अंदर ही फोड़ दें । इस तेल से हर तीसरे दिन बालों में मालिश करने से सफेद होते बाल काले हो जाते हैं और सिर की त्वचा स्वस्थ होती है ।

ऑवले का प्रयोग नम्बर दो :-

ऑवले का ताजा निकाला गया रस एक चम्मच लेकर, उसमें एक चम्मच बादाम का तेल और कुछ बूँदें नीम्बू के रस कि मिला लें । इस मिश्रण से रात को सोने से पहले बालों की जड़ों में मालिश करने से नये आने वाले बाल काले ही आते हैं और सफेद हो चुके पुराने बाल भी जड़ों की तरफ से काले होने शुरू हो जाते हैं ।

ऑवले का प्रयोग नम्बर तीन :-

ऑवले के सूखे टुकड़ें 50 ग्राम लेकर चूर्ण बनाकर उसमें 50 ग्राम मेहंदी मिलकर लोहे के काले कटोरे में सप्ताह भर के लिये पानी के साथ पेस्ट बनाकर रख दें । रोज इस पेस्ट में थोड़ा सा पानी मिला दें जितना कि पिछले दिन से अब तक उड़ गया है और अच्छे से चला दें । सप्ताह भर तक इसी तरह से करें और आठवें दिन इसको अपने बालों में अच्छी तरह से लगा लें । दो तीन घण्टे तक लगा रहने दें और फिर बालों को धो लें । इस प्रयोग से बाल प्राकृतिक रूप से काले होने लगते हैं । इस पेस्ट के साथ हि प्रयोग नम्बर एक में बताया गया तेल भी प्रयोग किया जाये तो बहुत हि अच्छा परिणाम देता है ।

ऑवले का प्रयोग नम्बर चार :-

ऑवले का चूर्ण रात भर के लिये लोहे के कटोरे में पानी के साथ पेस्ट बनाकर रखिये और सुबह को उसमें कुछ बूँदें जैतून के तेल की और 10 मिलीलीटर बकरी का दूध मिलाकर मिक्स कर लें । इस पेस्ट को नहाने से आधा घण्टा पहले बालों में लगा लें और फिर सादे पानी से सिर को धो लें । सफेद बालों की समस्या के समाधान के लिये यह प्रयोग रोज करने पर बहुत लाभकारी होता है ।
इस लेख के माध्यम से सफेद बालों की समस्या को खत्म करने के लिये लिखे गये सभी उपचार हमारी समझ में पूरी तरह से हानिरहित हैं । फिर भी आपके आयुर्वेदिक चिकित्सक के परामर्श के बाद ही इनको प्रयोग करने की हम आपको सलाह देते हैं । ध्यान रखिये कि आपका चिकित्सक आपके शरीर और रोग के बारे में सबसे बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नही होता है ।
इस लेख के माध्यम सए दी गयी जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया लाईक और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँच सकती है और हमको भी आपके लिये और बेहतर लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है । इस लेख के सम्बन्ध में आपके कुछ सुझाव हो तो कृपया कमेण्ट करके हमको जरूर बताइयेगा ।

http://hbnteam.com/wp-content/uploads/2018/01/12345-1.jpghttp://hbnteam.com/wp-content/uploads/2018/01/12345-1-150x150.jpgAdminHINDI
लगातार तनाव भरी जिन्दगी जीना, खाने पीने की चीजों में मिलावट, लगातार ठण्डे और गरम का गलत तरीके से सेवन और मौसम में फैला प्रदूषण कुछ ऐसी खास वजहे हैं जिनके कारण बाल जल्दी सफेद होना शुरू हो गये हैं । इन सफेद बालों को काला करने के लिये...